13 Jun - 2016

Agrasen Bhawan, Kantabanji

श्री अग्रसेन भवन

श्री अग्रसेन भवन काटाबाजी  के मुख्य मार्ग मेन रोड से लेकर 2 नंबर रोड तक फैला  लभभग ६६०० वर्ग फुट का एक तीन मंजिला भवन है , जिसमें एक स्टोर रूम की तरह व्यवहार होने वाल बेसमेंट ,भूतल पर २०  दुकाने ,प्रथम  तल पर  सर्वसुविध युक्त ४ अटेच और ५ नॉन अटेच  कमरे और एक विशाल हाल है ,इसके द्वितीय  तल पर एक किचन और खुला हाल है , अपने समय में आस पास के अंचल में यही एक मात्र पूर्ण संगमरमरिकृत एक मात्र सामजिक भवन था,

इतिहास -  श्री अग्रेसन काम्प्लेक्स के निर्माण से पहले यहाँ पर पंचायती धर्मशाला स्थित था जिसका प्रवेश द्वार श्री राधाकृष्ण मंदिर के सामने तथा मैंन रोड के तरफ दुकाने थी ,हरिभावन से पूर्व इसी भवन में विवाह व् अन्य सभी सामाँजिक, धार्मिक एवं मांगलिक कार्य सम्पन्न होते थे | अन्य समय ये यात्री निवास की तरह उपयोग में लाया जाता था | हरिभावन के निर्माण के बाद पंचायत धर्मशाला से बर्तन व् अन्य सामानों का आबंटन होता था वर्ष १९९४ से १९९६ के दौरान पंचायत धर्मशाला को तोड़कर श्री अग्रसेन काम्प्लेक्स का निर्माण हुआ ,

निर्माण प्रभारी - श्री घनश्याम दास अग्रवाल (कालिया सेल्स ) और अध्यक्ष श्री  मोजीराम जैन ,सचिव - श्री अशोक बंसल,

इसकी समस्त दुकानों का आबंटन 1 अगस्त १९९६ से किया गया

दिनांक २१.०७.१९९८ .में अग्रवाल सभा के तत्कालीन अध्यक्ष श्री  किशन लाल जैन  और सचिव  श्री देवानद अग्रवाल  के कार्यकाल में इस भवन का निर्माण कार्य प्रारंभ  हुआ |  इसके निर्माण के लिए नगर के दानदाताओ  ने मुक्तहस्त से दान दिया ,बिना किसी सरकारी सहायता के और अनेक दानदाताओ के तन मन धन के  सहयोग से इसका निर्माण १८ महीनो में ही पूर्ण कर लिया गया | और दिनाक .१९.०१.२००० को श्री किशन लाल जैन की ही अध्यक्षता में मुख्य अतिथि श्री नंदकिशोर जालान ( तत्कालीन राष्ट्रिय अध्यक्ष अखिल भारतीय मारवाड़ी सम्मलेन  कोलकाता ) एवं सम्मानीय अतिथि तत्कालीन काटाबांजी  विधायक श्री संतोष सिंग सलूजा द्वारा  उद्घाटन किया गया ,

यह प्रारंभ में धर्मशाला के प्रयोजन से ही बनाया गया था , २०१५-१७ में वर्त्तमान अध्यक्ष श्री अनिल अग्रवाल और सचिव  श्री कैलाश चंद अग्रवाल और इसके प्रभारी द्वय श्री किशोर अग्रवाल और  श्री आदर्श अग्रवाल की देख रेख में इसकी उपयोगिता को बढाने हेतु और इसे मुख्य धारा में शामिल करने हेतु इसको यात्री निवास का रूप दे दिया गया और एक नयी साज सज्जा के तहद  इसको तैयार किया गया , जिसका बहुत  अच्छा प्रतिसाद मिला , इसके अलावा ये अन्य किसी मांगलिक कार्यक्रमों हेतू भी एक उचित किराये में अग्रबंधु के साथ साथ दीगर समाज के लिए भी उपलब्ध  है ,

सत्र २०१९-२१ की कार्यकारिणी में तत्इकालीन संयोजक किशोर अग्रवाल(पेट्रोल पंप) एव शिरीष अग्रवाल  के नेतृत्व में भवन को लेकर कुछ विशेष कार्य किये गए, जिनमे प्रथम तल में एक अनुपयोगी सीढी को हटाकर वहा कमरे का निर्माण किया गया,प्रथम ताल स्थित सभी स्न्नागार एव शौचालय का नवीनीकरण किया गयएव श्री हीरालाल सवारिया हाल की नविन सज्सजा की गयी ,साथ ही एक बड़े कमरे को डोर मेटरी का रूप देकर उसकी उपयोगिता बढाई गयी ,

द्वितीय तल में में बारिश एव  धुप से बचाव हेतु एक स्थायी डूम बनया गया,साथ ही एक स्थायी स्टेज का निर्माण किया गया, एक वृहद् रसोई घर का भी निर्माण किया गया,

वरिष्गठ नागरिको  की सुविधा हेतु प्रतेक सीढी में  सहायक रेलिंग लगाईं गयी ,

तलघर का जीर्णो उद्धार करके उसमे पूर्ण कार्य किया गया, सभा के निर्णय अनुसार शीघ्र ही इसको किसी व्यासायिक उपयोग किया जाएगा 

इसका संचालन वर्तमान में श्री अग्रवाल सभा ट्रस्ट के पास है ,